Tuesday, June 20, 2017

क्या फायदे हैं सूर्य नमस्कार के ?



योग के फायदे किसी से छिपे नहीं है. इससे न केवल शरीर स्वस्थ रखता है बल्कि मन भी तरोताजा रहता है.  डेली रुटीन में लोग कामकाज और भागदौड़ के कारण आसानी से तनाव के चपेट में आ जाते हैं. ऐसे में सूर्य नमस्कार आपको तनाव से पूरी तरह मुक्त कर सकता है और शरीर को भी निरोग बनाता है.योग गुरु आचार्य बालकृष्ण बताते हैं कि सूर्य नमस्कार के क्या फायदे है
सूर्य नमस्कार
सूर्य नमस्कार आपके शरीर और मन को संतुलित रखने, तरोताजा करने और ऊर्जा प्रदान करने के लिए बेहद कारगर है. रोज दिन की शुरूआत इससे करें. सूर्य नमस्कार में 12 सरल आसन होते  हैं.
सूर्य नमस्कार की विधि
दोनों हाथों को जोड़कर सीधे खड़े हों.
2-सांस भरते हुए दोनों हाथों को कानों से सटाते हुए ऊपर की ओर तानें और गर्दन को पीछे की ओर झुकाएं.
3-अब सांस छोड़ते हुए आगे की ओर झुकें. हाथ गर्दन के साथ, कानों से सटे हुए नीचे जाकर पैरों के दाएं-बाएं जमीन का स्पर्श करें.
4-सांस को भरते हुए बाएं पैर को पीछे की ओर ले जाएं. गर्दन को अब पीछे की ओर झुकाएं व कुछ समय रुकें.
5-अब सांस को धीरे-धीरे छोड़ते हुए दाएं पैर को भी पीछे ले जाएं जिससे दोनों पैरों की एड़ियां मिली हुई हों. पीछे की ओर शरीर को खिंचाव दें.
6-अब सांस भरते हुए दंडवत लेट जाएं.
7-अब सीने से ऊपर के भाग को ऊपर की ओर उठाएं जिससे शरीर में खिंचाव हो.
8-फिर पीठ के हिस्से को ऊपर उठाएं. सिर झुका हुआ हो और शरीर का आकार पर्वत के समान हो.
9-अब फिर चौथी प्रक्रिया को दोहराएं यानी बाएं पैर को पीछे ले जाएं.
10-अब तीसरी स्थिति को दोहराएं यानी सांस धीरे-धीरे बाहर निकालते हुए आगे की ओर झुकें.
11-सांस भरते हुए दोनों हाथों को कानों से सटाते हुए ऊपर तानें और गर्दन को पीछे की ओर झुकाएं.
12-अब फिर से पहली स्थिति में आ जाएं.

(लेखिका ट्रैवलर, फोटोग्राफर और ब्लॉगर हैं.)

No comments:

Post a Comment

Search