Thursday, November 19, 2015

book on vajpayee


कुंभकरण  जाग गया ...

कुंभकरण जागने की ख़बर दुनिया को मिली तो सबके मानो होश उड़ गए ...और कुंभकरण के जागने के साथ ही हुई थी  धमाकेदार एंट्री , सात, रेस कोर्स रोड़ यानी भारतीय प्रधानमंत्री का सरकारी आवास ।
11 मई 1998,  इस सरकारी आवास पर इससे पहले  कभी किसी प्रधानमंत्री की ऐसी धमाकेदार एंट्री नहीं हुई थी बल्कि यहां क्या दुनिया के किसी प्रधानमंत्री या शासन प्रमुख ने ऐसी एंट्री नहीं की होगी ।
 कुंभकरण को मेजर जनरल पृथ्वीराज ने जगाया था ,
उनके साथ मेजर जनरल नटराज भी थे ,  भारतीय सेना के  ये  दो बड़े अफसर  वहां क्या कर रहे थे और किसके आदेश पर उन्होंने कुंभकरण को जगाने की कोशिश की । 
धरती के गर्भ में सोया हुआ कुंभकरण जब जागा तो धरती कांप उठी।
 दुनिया के माथे पर सलवटें पड़ने लगी और सवाल होने लगे कि कुंभकरण के जागने से तो मानो प्रलय आ जाएगी , यानी जितने मुंह ,उतनी बातें ।

No comments:

Post a Comment

Search